top of page

वजन कम क्यों नहीं हो रहा ??


जब आप अपने भोजन से बहुत अधिक दूरी बना लेते हैं, तो आपका चयापचय धीमा हो जाता है और आपके अगले भोजन में आपके द्वारा खाए जाने वाली सभी कैलोरी को जलाने में सक्षम नहीं होता है। वे अतिरिक्त कैलोरी अतिरिक्त वजन के रूप में समाप्त हो सकती हैं। और आप अधिक खा सकते हैं क्योंकि आप बहुत भूखे हैं। छोटे हिस्से खाने की कोशिश करें और अधिक बार खाएं। खाना खाते ही सीधे से सोने बॉडी टेम्परेचर, ब्लड शुगर और इंसुलिन बढ़ जाता है जिससे फैट बर्न करने में दिक्कत आती है और वजन कम नहीं होता. स्ट्रैस भी एक वजह से जिससे वजन कम नहीं होता. ज्यादा तनाव होने पर बॉडी फैट को ज्यादा स्टोर करती है जिससे वेट लॉस कम होता है या धीरे होता है. कारणों में खराब आहार, व्यायाम की कमी और कम या कम गुणवत्ता वाली नींद शामिल हैं। एक स्वस्थ आहार और सक्रिय जीवन शैली लोगों को अतिरिक्त पेट की चर्बी कम करने और इससे जुड़ी समस्याओं के जोखिम को कम करने में मदद कर सकती है। कहीं ये गलती तो नहीं कर रहे आप? वजन कम करने की कोशिश करते समय आपको जरूरत से ज्यादा रिफाइंड ब्रेड के सेवन से पूरी तरह बचना चाहिए. कोई फर्क नहीं पड़ता कि व्हाइट या ब्राउन, स्टोर से खरीदी गई ब्रेड हैवी प्रोसेस्ड होती है. अध्ययनों के अनुसार, साबुत अनाज खाने से शरीर में आंत की चर्बी कम होती है जबकि प्रोसेस्ड अनाज के सेवन से उनमें वृद्धि होती है! मेटाबॉलिज्म भी है जिम्मेदार

वजन कम करने में मेटाबॉलिज्म का भी असर आता है. स्लो मेटाबॉलिज्म वाले लोग धीरे वजन कम करते हैं. जिनके अंदर लीन मसल होते हैं या हल्की मस्कुलर बॉडी होती है वो फैट जल्दी बर्न करते हैं.

जेनेटिक फैक्टर्स को नजरअंदाज न करें

वजन कम करने के लिए जीन भी जिम्मेदार है. अगर आपके पेरेंट्स या दादा दादी मोटे थे या उनका वजन मुश्किल से कम होता था तो ये परेशानी आपको भी हो सकती है.

अच्छी नींद लें

सोने का भी वजन कम करने की प्रकिया से संबंध है.अगर आप भरपूर नींद नहीं लेते तो एक्सरसाइज पर इसका असर आता है और उतनी ताकत से एक्सरसाइज नहीं कर पाते. मील स्किप न करें

कई लोग वजन कम करने को मील स्किप करने से जोड़ते हैं. अगर आप भी सुबह का नाश्ता नहीं करते तो ये आदत नुकसानदेह है. दरअसल बिना ब्रेकफास्ट किये लंच तक तेज भूख लग जाती है जिससे ज्यादा खाना और कैलोरी जाती है. वेट लॉस के लिये ब्रेकफास्ट करना बंद ना करें बल्कि डायटिशयन के हिसाब से फाइबर, प्रोटीन वाले ब्रेकफास्ट करें जिसमें शुगर और फैट जीरो हो.

टेस्ट भी कराएं

वजन कम करने में सफलता नहीं मिल रही तो एक बार थाइरॉड का टेस्ट जरूर करायें. Hypothyroidism की वजह से वजन बढ़ता है. "Final Conclusion by Dr. Sunny Gupta" स्ट्रिक्ट डाइट और रेगुलर एक्सरसाइज के बाद भी वजन कम ना हो तो इसके पीछे कई और कारण भी हो सकते हैं. आपकी लाइफस्टाइल, जीन, फिजिकल कंडिशन और स्ट्रैस कई ऐसी वजह हैं जो वेट लॉस में काफी महत्वपूर्ण फैक्टर हैं. वजन कम करने के लिए बहुत मेहनत कर रहे हैं और भी सफलता नहीं मिल रही तो इन बातों पर ध्यान दें क्योंकि इनकी वजह से भी वेट लॉस पर असर पड़ता है. www.drsunnygupta.com

2 Kommentare


Dr. Sunny Gupta
Dr. Sunny Gupta
19. Mai 2023

Very nice information 👌

Gefällt mir

Moni Bagle
Moni Bagle
19. Mai 2023

🥰

Gefällt mir
Whatsapp.png
bottom of page