top of page

बर्फ का गोला बिगाड़ सकता है आपकी सेहत!

Updated: Apr 6


गर्मी शुरू होते ही शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में बर्फ के गोले ठेलों पर नजर आने लगते हैं. ये रंग-बिरंगे बर्फ के गोले बच्चों को क्या बड़ों तक को लुभाने लगते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि बर्फ के गोले में मिलाई जाने वाली सामग्री किसी को भी बीमार कर सकती है. बर्फ के गोले में मिलाए जाने वाले केमिकलयुक्त रंगों से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है. इसका सबसे ज्यादा खतरा बच्चों को होता है. 1. पेट के लिए नुकसानदायक : रंग-बिरंगे बर्फ के गोले बेशक कम दाम पर मिल जाते हों, लेकिन बाद में ये बहुत महंगे पड़ सकते हैं. केमिकलयुक्त रंग स्वास्थ्य के लिए घातक है. सकरीन का उपयोग बच्चों के पेट और लिवर के लिए घातक हो सकते हैं. बर्फ के गोलों में मिले रंगों से पेट की बीमारियां, त्वचा रोग बढ़ने का खतरा रहता है. आंतों में संक्रमण भी हो सकता है. 2. दूषित पानी नुकसानदायक : बर्फ का गोला व आइस्क्रीम बेचने वाले कई बार दूषित पानी का उपयोग करते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए घातक है. बर्फ का गोला खाने से गला जाम हो सकता है. इसके साथ ही गले में इन्फेक्शन, निमोनिया, टाइफाइड, दिमागी बुखार, हैजा, उल्टी, दस्त सहित कई बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है. 3. फैक्ट्री की बर्फ खाने योग्य नहीं : ठेलों पर बेचे जाने वाले बर्फ के गोले कई तरह से नुकसानदायक हो सकता है. क्योंकि फैक्ट्री से बनी बर्फ खाने-पीने के उपयोग के लिए नहीं होती है. इस बर्फ का उपयोग केवल पैक्ड सामग्री को ठंडा करने के लिए होता है. इसके बादवजूद लोग वहां से बर्फ खरीदकर खाने-पीने की सामग्री में इसका उपयोग करते हैं, जो सेहत के घातक हो सकती है. फैक्ट्री में बर्फ की शुद्धता पर ध्यान नहीं दिया जाता है. "Final Conclusion by Dr. Sunny Gupta" बर्फ खाने से एनीमिया कॉम्प्लिकेशन और कई डायट्री प्रॉब्लम भी होने लगती हैं इससे दांत के एनेमल को नुकसान पहुंचता है और दांत टूटने लगते हैं। मुंह की कई समस्याएं जैसे सेंसिटिविटी और दर्द भी होने लगता है। बर्फ खाने से धमनियों पर असर पड़ता है और वो सिकुड़ जाती हैं। बर्फ के गोले में कलर का इस्तेमाल होता है, जिसमें हानिकारक केमिकल्स होते हैं जो शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं. ये पाचन तंत्र को प्रभावित कर सकते हैं. इससे पेट की बीमारियों का खतरा पैदा होने के अलावा स्किन एलर्जी होने का खतरा भी हो सकता है. अधिक मार्गदर्शन के लिए डायटीशियन सनी गुप्ता से सलाह लें. www.drsunnygupta.com

Comments


Whatsapp.png
bottom of page